Welcome to SPLCASH
International
  • VEINS OF VARICOSE DISEASE ( शिराओं का उभरना रोग ) And Homoeopathic treatment.

    VEINS OF VARICOSE DISEASE ( शिराओं का उभरना रोग) And Homoeopathic treatment.                  मैं डाक्टर पतरु सिंह यादव सिनेमा रोड अनपरा सोनभद्र उत्तर प्रदेश। एस पी एल कैश काम में आप का स्वागत है। और इस समय आप पढ़ रहे हैं मेरा ब्लॉग पोस्ट - VEINS OF VARICOSE DISEASE ( शिराओं का उभरना रोग) And Homoeopathic treatment.                          What is the VEINS OF VARICOSE DISEASE- यह एक ऐसा रोग होता है, जिसमें खून वापिस लाने वाली नसों में बहता हुआ खून रूकने से शिराएं कठोर तथा उभर आने के कारण रोगी को जबरदस्त पीड़ा होती है। ऐसे रोग का होम्योपैथिक उपचार बताया गया है।                                 होम्योपैथिक उपचार -          1- Pulsatilla- यह दवा उस समय उपयोगी होती है जब प्रभावित हिस्से में तेज पीड़ा तथा अंग नीले रंग के हो जाते हैं। यह वेरिकोज रोग की प्रमुख दवा है।                        2- Fluoric Acid - यह दवा पुराने रोग में, खास करके अनेक बच्चा पैदा की हुई महिलाओं में वेरिकोज नसें उभर आती है। मुख्य रूप से पैर की उंगलियों की।                3- Hamamelis- यह दवा वेरिकोज नसों के सभी अवस्थाओं में उपयोगी होती है। और इसका लोशन उस स्थान पर लगाया जा सकता है।                                       4- Belladonna- यह दवा थुल- थुल रोगियो में वेरिकोज नसें जबरदस्त रक्त प्रवाह के कारण उत्पन्न नशों के फड़कने वाली दर्द में आराम मिलता है।       5- Millefolium- यह दवा वेरिकोज नसों के रोग में सबसे अधिक उपयोगी औषधि है। मुख्य रूप से जब खून की बारीक नसें स्पांजी व बढ़ गई हों।                                       यह ब्लॉग पोस्ट आप को कैसा लगा अगर अच्छा लगे तो आप इसे लाइक करें शेयर करें और कमेंट में लिखे कि यह ब्लॉग पोस्ट आप को कैसा लगा। और तुरंत मेरी स्पान्सर आई डी 46192 से जुड़कर इन्टरनेट से पैसा कमाने वाला बने। एस पी एल कैश काम में आप का स्वागत है धन्यवाद।     धन्यवाद- मैं डाक्टर पतरु सिंह यादव। स्पांन्सर आई डी 46192// मोबाइल न- 9935877900//.                 पत्ता- सिनेमा रोड अनपरा सोनभद्र उत्तर प्रदेश।

Editor Picks